मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
मायावती का राहुल गांधी पर निशाना, कांग्रेस को दलित विरोधी बताया PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 09 October 2013 15:01

नई दिल्ली। राहुल गांधी के हमले के एक दिन बाद बसपा अध्यक्ष मायावती ने आज आरोप लगाया कि कांग्रेस ने उनकी पार्टी के संस्थापक कांशीराम के निधन पर राष्ट्रीय शोक घोषित नहीं करके उनके प्रति ‘जातिवादी’ रवैया अपनाया था।
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कल मायावती को आड़े हाथ लेते हुए कहा था कि वह उत्तर प्रदेश में अनुसूचित जाति के किसी नेता को बढ़ने नहीं दे रहीं।
कांशीराम की सातवीं पुण्यतिथि के मौके पर यहां बहुजन प्रेरणा केंद्र में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि राजनीतिक दल बसपा संस्थापक के विरोधी रहे हैं और खासतौर पर कांग्रेस की सोच तो उनके प्रति ‘जातिवादी’ और ‘तिरस्कारपूर्ण’ रही है।
मायावती ने यहां जारी एक बयान में कहा, ‘‘यही वजह है कि केंद्र में कांग्रेस नीत सरकार


ने उनके निधन पर एक दिन का भी शोक घोषित नहीं किया जिसके लिए हमारे लोग कभी कांग्रेस को माफ नहीं करेंगे। यह उनकी दलित विरोधी मानसिकता को दर्शाता है जिसके लिए हम उनकी कड़े शब्दों में निंदा करते हैं।’’
‘अनुसूचित जातियों को अधिकार देने के लिए राष्ट्रीय जागरूकता कार्यक्रम’ को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा था, ‘‘यदि आपको इस (दलित) आंदोलन को आगे ले जाना है तो एक दलित नेता या दो दलित नेता काफी नहीं होंगे।’’
उन्होंने कहा, ‘‘लाखों दलितों की जरूरत होगी। इस आंदोलन के नेतृत्व पर मायावती ने कब्जा कर रखा है। वह अन्य लोगों को बढ़ने नहीं देतीं।’’
(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?