मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
यौन उत्पीड़न मामला : आसाराम के बेटे के खिलाफ लुक आउट नोटिस PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 07 October 2013 14:30

सूरत। आसाराम बापू और उनके पुत्र नारायण साईं के खिलाफ यौन उत्पीड़न की दो बहनों द्वारा कराई गई शिकायत के एक दिन बाद साईं के विरूद्ध लुक आउट नोटिस जारी किया गया है।


सूरत के पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने कहा, ‘‘आसाराम के पुत्र नारायण साईं के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया गया है।’’
अस्थाना ने कहा, ‘‘हमने आव्रजन अधिकारियों को सूचित किया है कि उसके खिलाफ एक गंभीर अपराध का मामला दर्ज किया गया है। यह (लुक आउट नोटिस) एक एहतियाती कदम है ताकि वह देश के बाहर नहीं जा सके।’’
पुलिस दलों ने मामले की जांच शुरू कर दी है तथा साईं का पता लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने कुछ ऐसे स्थलों की पहचान की है जहां वह हो सकता है।
कल अस्थाना ने कहा था कि वे साईं से शिकायत के सिलसिले में पूछताछ करेंगे।
विवादास्पद आसाराम एवं उसके पुत्र नारायाण सार्इं के खिलाफ यौन उत्पीड़न का नये मामले दर्ज किये गये हैं क्योंकि दो बहनों ने उनके खिलाफ उत्पीड़न का आरोप लगाया था। आसाराम (75) को एक अल्पवय लड़की के साथ बलात्कार करने के


आरोप में अगस्त में गिरफ्तार किया गया था और उसके बाद से वह राजस्थान की जोधपुर जेल में है।
पुलिस ने बलात्कार, यौन उत्पीड़न, गैर कानूनी रूप से कब्जे में रखने एवं अन्य आरोपों में आसाराम एवं नारायण साईं के खिलाफ दो अलग अलग मामले दर्ज किए हैं।
नारायण साई के खिलाफ सूरत के जहांगीरपुरा पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है जबकि उसके पिता आसाराम के खिलाफ दर्ज मामले को अहमदाबाद स्थानांतरित कर दिया गया क्योंकि कथित घटना वहां हुई।
बड़ी बहन ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि आसाराम ने 1997 से 2006 के बीच उसका कई बार यौन उत्पीड़न किया जब वह अहमदाबाद शहर के बाहरी हिस्से में उसके आश्रम में रह रही थी।
छोटी बहन ने नारायण साईं के खिलाफ लिखवाई शिकायत में कहा है कि वह जब उसके सूरत आश्रम में 2002 से 2005 के बीच में रह रही थी तो उसके साथ यौन उत्पीड़न किया गया।
(भाषा)

 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?