मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
चिदंबरम ने सरकारी गोदाम से जारी चावल के ऊंचे दाम को सही ठहराया PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 07 October 2013 11:31

शिवगंगा (तमिलनाडु)। केन्द्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने सरकारी गोदाम से जारी होने वाले चावल की कीमत में वृद्धि को सही ठहराते हुए कहा है कि सरकार धान की खरीद करते समय किसानों को अधिक भुगतान करती है।
चिदंबरम ने कल यहां तयामंगलम के नजदीक सार्वजनिक क्षेत्र के विजय बैंक की 1459वीं शाखा का उद्घाटन करते हुये कहा ‘‘हम किसानों से धान की खरीद करते समय ज्यादा भुगतान करते हैं इसलिये स्वाभाविक है कि आगे चावल का दाम भी बढ़ेगा।’’
उन्होंने कहा ‘‘कृषि देश की आजीविका का मूल कार्य है, और यदि कृषि क्षेत्र की उन्नति नहीं होगी तो फिर देश समृद्ध नहीं होगा।’’
वित्त मंत्री ने कहा कि प्रकृति का ऐसा कोई नियम नहीं है कि किसान हमेशा ही गरीब बने रहें। यदि सरकार


उन्हें गेहूं और चावल के लिए ज्यादा दाम देगी तो स्वाभाविक है कि आगे इनके दाम भी बढ़ेंगे।
उन्होंने कहा कि सरकार कृषि उपज के लिये किसानों को बेहतर मूल्य देने के लिये प्रतिबद्ध है। उन्होंने देश में आवश्यकता के अनुरूप खाद्यान्न उत्पादन बढ़ाने पर जोर देते हुये दावा किया है कि हाल के समय में कृषि क्षेत्र में अच्छी वृद्धि दर्ज की गई और गेहूं तथा चावल का उत्पादन दोगुना हुआ है।
चिदंबरम ने किसानों से कहा कि वह बैंकों से कृषि ऋण का लाभ उठाएं क्योंकि यह काफी सस्ती ब्याज दरों पर उपलब्ध है।
(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?