मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
कैदी ने की आत्महत्या: जेल में बंदियों का हंगामा, होगी उच्चस्तरीय जांच PDF Print E-mail
User Rating: / 1
PoorBest 
Friday, 09 August 2013 10:43

कन्नौज...लखनऊ। उत्तर प्रदेश की कन्नौज जिला कारागार में एक कैदी के फांसी लगाकर आत्महत्या करने से नाराज अन्य बंदियों ने जेलकर्मियों से मारपीट, परिसर में तोड़फोड़ तथा पथराव किया। उग्र कैदियों को काबू में करने के लिये पुलिस ने लाठीचार्ज किया जिससे कई कैदी जख्मी हो गये।
सरकार ने इस मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने का फैसला किया है। इस मामले में डिप्टी जेलर तथा पांच आरक्षियों को लापरवाही बरतने के आरोप में हटाकर अन्यत्र सम्बद्ध कर दिया गया है।
जेल सूत्रों ने आज यहां बताया कि गैर इरादतन हत्या के मामले में जेल में निरुद्ध कमलेश नामक कैदी ने कल रात बैरक संख्या तीन में लुंगी से फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। इसकी खबर लगने पर बाकी कैदी उग्र हो गये और उन्होंने बंदीरक्षकों से मारपीट शुरू कर दी। साथ ही उन्होंने पथराव और तोड़फोड़ भी की।
सूत्रों के मुताबिक जेलर सत्येन््रद ने जिला प्रशासन को हालात की जानकारी दी जिसके बाद बड़ी संख्या में पुलिस बल जेल में पहुंच गया। पुलिस तथा पीएसी ने उग्र कैदियों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिये लाठियां चलायीं जिससे कई कैदी जख्मी हो गये।
गृह विभाग के प्रमुख सचिव आर. एम. श्रीवास्तव ने लखनउच्च् में बताया कि कानपुर मण्डल के अपर आयुक्त राजीव शर्मा तथा अपर महानिरीक्षक कारागार :प्रशासन: रियाज अख्तर की


सदस्यता वाली उच्चस्तरीय समिति को मामले की जांच का जिम्मा सौंपा गया है। इसके अलावा मामले की न्यायिक जांच भी करायी जाएगी।
इस बीच, पुलिस महानिरीक्षक :कानून-व्यवस्था: राजकुमार विश्वकर्मा ने लखनउच्च् में संवाददाताओं को बताया कि अवसाद से गुजर रहे कमलेश की मौत से उग्र हुए कैदी बैरक का ताला तोड़कर छत पर चढ़ गये और हंगामा किया। सूचना मिलने पर जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक ने मौके पर पहुंचकर कैदियों को समझाया-बुझाया।
पुलिस महानिरीक्षक ने बताया कि कैदियों ने पुलिस अधीक्षक को दी गयी अर्जी में जेलर, डिप्टी जेलर, वार्डेन तथा एक कांस्टेबल पर हत्या का आरोप लगाया है। जांच की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिये गये हैं। फिलहाल कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है।
विश्वकर्मा ने बताया कि प्रारम्भिक जांच के बाद डिप्टी जेलर ओमप्रकाश को हटाकर मुख्यालय से और पांच बंदीरक्षकों को भी हटाकर फतेहगढ़ केन््रदीय कारागार से सम्बद्ध कर दिया गया है।
उन्होंने बताया कि हालात के मद्देनजर कई थानों की पुलिस को जेल परिसर में तैनात कर दिया गया है। स्थिति नियंत्रण में है।
सूत्रों ने बताया कि फांसी लगाने वाले कैदी के शव का पोस्टमार्टम कराया गया है।
भाषा

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?