मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
नेता ईमानदार अधिकारियों के काम में डाल रहे हैं बाधा : किरन बेदी PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 31 July 2013 10:23

कोलकाता। उत्तर प्रदेश में गैर कानूनी खनन के खिलाफ कार्रवाई करने वाली आईएएस अधिकारी दुर्गाशक्ति नागपाल को निलंबित किये जाने पर चिंता जताते पूर्व आईपीएस अधिकारी किरण बेदी ने आज नेताओं पर ईमानदार अधिकारियों के काम में बाधा डालने का आरोप लगाया।
उन्होंने विवादास्पद निलंबन आदेश के बारे में संवाददाताओं द्वारा सवाल पूछे जाने पर यह बात कही। उन्होंने कहा, ‘‘संदेश यह है कि नेता उन अधिकारियों को बाधित करते हैं जो भ्रष्टाचार के खिलाफ काम करते हैं। संदेश स्पष्ट है और यह बेनकाब हो गया है।’’
बेदी ने इस बात पर प्रसन्नता जतायी कि अन्य आईएएस अधिकारी तथा अन्य समाज ने इसकी भर्त्सना की तथा दुर्गाशक्ति का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि यह महिला भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ रही थी और उसके निलंबन से गलत संदेश गया है।
देश की पहली महिला आईपीएस अधिकारी ने कहा, ‘‘कम से कम एक अच्छी बात हुई कि पूरी एसोसिएशन ने


मुख्य सचिव से मिलकर सवाल उठाया। हमें देखना होगा कि क्या वे स्थिति समझ पाते हैं।’’
उत्तर प्रदेश सरकार ने हाल के दिनों में खनन माफिया के विरच्च्द्ध अभियान चलाने के लिये चर्चा में रहीं गौतम बुद्ध नगर की उपजिलाधिकारी दुर्गा शक्ति नागपाल को निलम्बित कर दिया था।
वर्ष 2009 बैच की आईएएस अधिकारी और गौतम बुद्ध नगर :सदर: तहसील की उपजिलाधिकारी दुर्गा शक्ति नागपाल को रबुपुरा थाना क्षेत्र के कादलपुर गांव में एक निर्माणाधीन मस्जिद की दीवार को कानूनी प्रक्रिया का पालन किये बगैर अदूरदर्शी तरीके से हटवाने के कारण 27 जुलाई की रात को निलम्बित कर दिया गया था।
दुर्गाशक्ति के निलम्बन के मुद्दे को लेकर आईएएस एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने लखनउच्च् में कार्यवाहक मुख्य सचिव आलोक रंजन से मुलाकात की थी।
(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?