मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
नसबंदी आपरेशन के दौरान महिला की मौत, जांच समिति गठित PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 24 July 2013 17:02

जालंधर। जालंधर जिले के एक गांव में कम्युनिटी हेल्थ सेंटर के शिविर में महिला नसबंदी आपरेशन के दौरान एक महिला की मौत हो गयी, जिसके बाद चिकित्सा विभाग ने मामले की जांच के लिए एक टीम गठित की है।
सिविल सर्जन आर एल वस्सन ने बताया, ‘‘जिले के बडापिंड गांव के कम्युनिटी हेल्थ सेंटर में सोमवार को महिला नसबंदी के लिए एक शिविर का आयोजन किया गया था। इसमें आॅपरेशन के दौरान एक सुमन नामक एक महिला की हालत बिगडने लगी तो उसे सदर अस्पताल भेज दिया गया। उसकी रास्ते में ही मौत हो गयी।’’
वस्सन ने बताया, ‘‘सुमन की मौत का कारण प्रथम दृष्टया आंतरिक रक्तस्राव लगता है, लेकिन शव का पोस्टमार्टम कराये जाने के बाद ही आसली कारणों का पता चल पाएगा। आज दोपहर बाद पोस्टमार्टम कराया जाएगा।’’
उन्होंने कहा, ‘‘इस मामले की जांच के लिए मैंने विशेषज्ञों की एक समिति गठित की है। इसमें तीन सदस्य होंगे जो इसकी जांच करेंगे कि सुमन की मौत में किसकी गलती थी।’’
वस्सन ने कहा, ‘‘इस जांच कमेटी में स्त्री विशेषज्ञ, शल्य चिकित्सक और चिकित्सा विशेषज्ञ शमिल किये गए हैं जिन्हें जल्दी ही जांच रिपोर्ट पेश करने को कहा गया है।’’
वस्सन ने बताया, ‘‘सुमन के पति जसराम को आज 50 हजार रुपये का चैक दे दिया गया है और डेढ़ लाख रुपये उन्हें बाद में दिये जायेंगे।’’
यह पूछे जाने पर कि लापरवाही करने वाले चिकित्सक


के खिलाफ कारर्रवाई होगी वस्सन ने कहा कि जब तक जांच रिपोर्ट नहीं आ जाती है तब तक इस बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी। जांच रिपोर्ट के बाद ही विभाग अगला कदम उठाएगा।
अस्पताल से जुडे उच्च पदस्थ सूत्रों के अुनसार सुमन की मौत सोमवार की शाम को हो गयी। इसके बाद भी कोई निर्णय नहीं हो सका। वरिष्ठ अधिकारी मामले को मुआवजा देकर कथित रूप से दबाने की कोशिश कर रहे थे और यही कारण था कि मंगलवार को दिन भर उसका शव अस्पताल के मुर्दाघर में पडा रहा।
सूत्रों ने कहा कि महिला का पति जसराम स्थानीय सरपंच के साथ कल सिविल सर्जन कार्यालय पहुंच गया और जांच की मांग की। इसके बाद जांच कमेटी का गठन हो सका। कमेटी ने आज से अपना काम शुरू कर दिया है।
अस्पताल के एक अन्य वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी ने कहा, ‘‘आपरेशन करने वाले चिकित्सक बाहर से आये थे। इसलिए इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है।’’
दूसरी ओर उत्तर प्रदेश निवासी तथा पांच बच्चों के पिता जसराम का आरोप है कि आशा वर्कर सुमन को बहला फुसला कर नसबंदी आपरेशन कराने ले गयी। इस बात की जांच तो होनी ही चाहिए कि इसमें गलती किसकी है।
(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?