मुखपृष्ठ अर्काइव
Bookmark and Share
‘भाग मिल्खा...’ ने 3 दिन में कमाए 6 लाख 47 हजार डॉलर PDF Print E-mail
User Rating: / 1
PoorBest 
Wednesday, 17 July 2013 12:33

वाशिंगटन। प्रसिद्ध भारतीय एथलीट मिल्खा सिंह के जीवन को बयां करने वाली फरहान अख्तर अभिनीत फिल्म ‘भाग मिल्खा भाग’ ने अमेरिका में अपने प्रदर्शन के पहले ही सप्ताह में 6लाख 47 हजार डॉलर की कमाई कर ली।

फिल्म समीक्षा: खेल बनाम जीवन संग्राम
फरहान ने मुझे अपने आंसू पोछने के लिए रूमाल दिया :मिल्खा
फरहान मेरा प्रतिरूप हैं : मिल्खा सिंह

फिल्मकार राकेश ओमप्रकाश मेहरा की इस फिल्म ने अमेरिका में चर्चित फिल्मों के पॉपुलेरिटी चार्ट में इस सप्ताह 15वां स्थान भी हासिल कर किया।
अमेरिकी शीर्ष फिल्मों पर नजर रखने वाली वेबसाइट बॉक्स आॅफिस मोजो के अनुसार, यह फिल्म अमेरिका के 140 थिएटरों में चल रही है और इसने अपने प्रदर्शन के पहले तीन ही दिनों में 647,112 डॉलर की कमाई की है।

आत्मकथा कहेगी मिल्खा के जीवन की कहानी


12 जुलाई को अपने प्रदर्शन के पहले दिन फिल्म ने 183,083 डॉलर की कमाई की। अगले दिन शनिवार को यह राशि बढ़कर 270,275 डॉलर हो गई। रविवार को इसने 140 सिनेमाघरों में कुल 193,774 डालर कमाए।

‘भाग मिल्खा भाग’ से बॉलीवुड में दस्तक दे रहीं हैं पाक अदाकारा मीशा

द वाशिंगटन पोस्ट के अनुसार, ‘‘एक जीवनी को ‘भाग मिल्खा भाग’ में बॉलीवुड का तड़का मिला है। इसमें पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ने वाले भारतीय धावक मिल्खा सिंह की जिंदगी को दिखाया गया है। यह भूमिका बेहतरीन कलाकार फरहान अख्तर ने निभाई है।’’  
अखबार ने कहा, ‘‘बॉलीवुड की अधिकांश फिल्मों की तरह मिल्खा की कहानी को भी एक वीरगाथा की तरह बनाया गया है । बचपन के बुरे अनुभव और


ट्रैक पर कुछ बड़ी उपलब्धियों से इतर उसकी बाकी की कहानी ऐसी लगती है मानो सिर्फ कुछ घटनाएं उसमें भर दी गई हैं।’’

सच्चे नायक की कहानी है ‘भाग मिल्खा भाग’ : फरहान अख्तर

न्यूयॉर्क टाईम्स ने लिखा, ‘‘भारतीय धावक मिल्खा सिंह ‘भाग मिल्खा भाग’ का मुख्य नायक हो सकते हैं लेकिन इस बॉलीवुड फिल्म की आत्मा देश के विभाजन के दौर में बसती है । ‘द फ्लाइंग सिख’ के नाम से चर्चित मिल्खा इसका एक पात्र मात्र है जो विभाजन के समय पाकिस्तान से भाग निकला और तब से भाग ही रहा है।’’

मैंने मिल्खा सिंह की नकल करने की कोशिश नहीं की: फरहान

फिल्म में अख्तर की भूमिका की तारीफ करते हुए हॉलीवुड रिपोर्टर ने कहा, ‘‘चतुर और मजबूत अख्तर बॉलीवुड के अन्य नायकों जैसा नहीं दिखता। मेहरा भी कहते हैं कि यही एक अहम कारण था कि उन्होंने अख्तर को चुना। इस भूमिका के लिए कलाकारों की खोज उन्हें कनाडा, ब्रिटेन और अमेरिका तक ले गई थी।’’  

मिल्खा सिंह के साथ काम करने पर खुद को सम्मानित महसूस करते हैं प्रसून जोशी

हॉलीवुड रिपोर्टर ने कहा, ‘‘इस भूमिका के लिए आकर्षक शारीरिक सौष्ठव बनाने के अलावा अख्तर ने पूरा ध्यान लगाकर वह समर्पण का भाव विकसित किया है, जिसके चलते सिंह विभाजन के बाद के शरणार्थी के रूप में अपनी दुखद शुरूआत से उबरे और थोड़े ही समय में राष्ट्रीय विजेता बने।’’ (भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?