मुखपृष्ठ अर्काइव
Bookmark and Share
अनुबंध पर बहाल 66104 शिक्षकों के वेतन भुगतान को मंजूरी PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 17 July 2013 11:24

पटना। बिहार राज्य मंत्रिपरिषद ने प्राथमिक एवं मध्य विद्यालयों में अनुबंध पर बहाल 66104 शिक्षकों के वित्तीय वर्ष 2013-14 के वेतन भुगतान के लिए पंचायत समितियों एवं नगर निकायों को सहायक अनुदान मद में छह अरब तीन करोड सतहत्तर लाख चालीस हजार रूपये दिए जाने को आज मंजूरी प्रदान कर दी।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में आज संपन्न मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद संवाददाताओं को मंत्रिमंडल सचिवालय समन्वय विभाग के प्रधानसचिव ब्रजेश महरोत्रा ने बताया कि मंत्रिपरिषद ने प्राथमिक एवं मध्य विद्यालयों में ठेके पर बहाल 66104 शिक्षकों के वर्तमान वित्तीय वर्ष के वेतन भुगतान के लिए पंचायत समितियों एवं नगर निकायों को सहायक अनुदान मद में छह अरब तीन करोड सतहत्तर लाख चालीस हजार रूपये दिए जाने को मंजूरी प्रदान कर दी।
उन्होंने बताया कि मंत्रिपरिषद ने वर्तमान वित्तीय वर्ष में सर्व शिक्षा अभियान योजना अंतर्गत 13वें वित्त आयोग की अनुशंसा के आलोक में नौ अरब 46 करोड रूपये अनुदान के रूप में व्यय को भी अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है।
महरोत्रा ने बताया कि मंत्रिपरिषद ने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान किए जाने के लिए राज्य के अध्यापक शिक्षण संस्थानों एवं शिक्षकों की उत्कृष्टता के लिए अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के साथ समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किए जाने को अपनी मंजूरी दे दी है।
उन्होंने बताया कि बिहार न्यायिक सेवा के पदाधिकारियों को न्यायमूर्ति


पद्मनाभन आयोग द्वारा अनुशंसित सेवांत लाभ दिए जाने को मंजूरी दे दी है।
महरोत्रा ने बताया कि चिन्हित गांवों में ग्रामीण पर्यटन को बढावा देने के लिए पर्यटकों को मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने के लिए निजी क्षेत्र संरचना निर्माण के लिए पर्यटन विकास नीति 2013 को मंत्रिपरिषद ने अपनी मंजूरी दे दी है।
महरोत्रा ने बताया कि राज्य मंत्रिपरिषद ने उच्च जातियों के आर्थिक एवं शैक्षणिक स्तर का सर्वेक्षण ‘आ्रदी’ नामक संस्था से कराने के लिए उच्च जाति आयोग को गैरयोजना मद में 59 लाख 73 हजार रूपये दिए जाने को अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है।
उन्होंने बताया कि श्रम संसधान विभाग के अधीन बीमा चिकित्सा सेवा संवर्ग के चिकित्सकों की सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा को 62 से बढाकर 65 किए जाने को मंत्रिपरिषद ने अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है।
बिहार सरकार ने राज्य के सरकारी अस्पतालों में कार्यरत चिकित्सकों, चिकित्सा शिक्षकों की सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा 62 से बढाकर 65 पूर्व में कर दी थी, जिसमें एलोपैथी, आयुष और दंत चिकित्सक शामिल हैं।
महरोत्रा ने बताया कि बिहार नगर पालिका लेखा नियमावली 2013 सहित कुल 21 विषयों पर आज विचार कर उन्हें मंजूरी प्रदान कर दी।
(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?