मुखपृष्ठ अर्काइव
Bookmark and Share
पेट्रोल के दाम 1.55 रुपए प्रति लीटर बढ़े PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 15 July 2013 09:19

जनसत्ता ब्यूरो, नई दिल्ली। पेट्रोल के दाम में रविवार आधी रात से 1.55 रुपए प्रति लीटर की वृद्धि हो जाएगी। डालर के मुकाबले रुपए की विनिमय दर में गिरावट का यह नतीजा है। दरअसल डालर के कारण तेल आयात पहले से कहीं ज्यादा महंगा हुआ है।  इसीलिए पिछले छह हफ्तों में ईंधन के दाम में तेल कंपनियों ने चौथी बार वृद्धि की है।
इन कंपनियों ने पेट्रोल के दाम में 1.55 रुपए प्रति लीटर की वृद्धि की घोषणा कर दी। हालांकि इसमें वैट शामिल नहीं हैं। बहरहाल दाम में वास्तविक वृद्धि विभिन्न-विभन्न शहरों में वहां के स्थानीय कर के मुताबिक अलग-अलग होंगी।
जहां तक दिल्ली का सवाल है यहां पेट्रोल का दाम 1.86 रुपए प्रति लीटर बढ़कर 70.44 रुपए प्रति लीटर हो जाएगा। फिलहाल यह 68.58 रुपए प्रति लीटर है। जून से अब तक यह चौथी वृद्धि है।       बाकी पेज 8 पर  उङ्मल्ल३्र४ी ३ङ्म स्रँी ८
इससे पहले तेल कंपनियों ने एक जून को 75 पैसे, 16 जून को दो रुपए प्रति लीटर व 29 जून को 1.82 रुपए प्रति लीटर की वृद्धि की थी। दरअसल घरेलू कीमत की


समीक्षा लागत में बदलाव के आधार पर हर पखवाड़े की जाती है। इस लिहाज से मूल्य की समीक्षा मंगलवार को होनी थी लेकिन इसे एक दिन पहले ही बढ़ा दिया गया।
उधर, डीजल के दाम में इस बार कोई बदलाव नहीं किया गया है। इस ईंधन के मूल्य की समीक्षा महीने के अंत में होनी है। हाल की वृद्धि से पूर्व में पेट्रोल के दाम में चार बार जो कटौती की गई थी, उसका लाभ खत्म हो गया है। दरों में कटौती के कारण मई में पेट्रोल की कीमत 63.01 रुपए प्रति लीटर हो गई थी। इस तुलना में तो डेढ़ महीने के भीतर उपभोक्ता को सात रुपए लीटर से भी ज्यादा की चपत सहनी पड़ेगी। एक दौर था जब पेट्रोल और डीजल की खुदरा कीमत में चंद पैसों की बढ़ोतरी को भी देश के लोग सहन करने को तैयार नहीं होते थे। विरोधी दलों को भी इस बहाने जोरदार विरोध का मौका मिलता था। पर अब वे भी कोई प्रतिक्रिया नहीं जताते।

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?