मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
उत्तराखंड आपदा पीड़ितों की मदद के लिये आगे आया शिया पर्सनल ला बोर्ड PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 21 June 2013 18:38

लखनऊ। आल इंडिया शिया पर्सनल ला बोर्ड ने केदारनाथ तथा ब्रदीनाथ समेत अनेक इलाकों में आयी प्रलयंकारी बाढ़ से पीड़ित लोगों की मदद के लिये राहत कोष बनाते हुए मुसलमानों से ज्यादा से ज्यादा सहयोग की अपील की है।


बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने आज ‘भाषा’ से बातचीत में बताया कि उत्तराखंड में आयी आफत से पीड़ित लोगों के लिये संगठन ने एक राहत कोष बनाया है, जिसमें धन जुटाकर पड़ोसी राज्य की सरकार को राहत कार्यों के लिये सौंपा जाएगा।
अब्बास ने सभी मुसलमानों से इंसानियत को ही अपना एकमात्र धर्म मानते हुए उत्तराखंड में पीड़ितों की मदद के लिये बनाये गये कोष में ज्यादा से ज्यादा सहयोग की अपील की है।
उन्होंने पड़ोसी राज्य में मची भारी तबाही को कुदरत के साथ खिलवाड़ का नतीजा करार दिया और कहा कि अल्लाह ने दरख्त और पहाड़ समेत पूरी कायनात में एक संतुलन बना रखा है। लेकिन इंसान पैसे की हवस में पहाड़ और पेड़ काटकर तथा समु्रद को पाटकर इमारतें बना रहा है। उत्तराखंड में टूटी कयामत इसी असंतुलन का नतीजा है।
इस बीच, आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड के सदस्य मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने बताया कि मस्जिदों में आपदा पीड़ितों के लिये लगातार दुआएं की जा रही हैं।
मौलाना ने बताया कि उन्होंने मुस्लिम संगठनों तथा


गैर सरकारी संगठनों से अपील की है कि वे उत्तराखंड पर टूटी दैवीय आपदा के पीड़ित लोगों की ज्यादा से ज्यादा मदद करें।
उन्होंने इस सिलसिले में एक राहत कोष बनाए जाने की जरूरत भी बतायी।
(भाषा)

आज की मुख्य खबरें:

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?