मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
हमउम्र लोगों का दबाव, सामाजिक कारणों से लगती है धूम्रपान की लत: सर्वेक्षण PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 14 June 2013 14:03

कोलकाता। कोलकाता में ज्यादातर धूम्रपान करने वालों को 16 से 20 साल की उम्र में इसकी लत लगती है और लत लगने में सामाजिक कारकों जैसे मित्रों और हमउम्र लोगों का दबाव एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है ।
आईसीआईसीआई लोंबार्ड सामान्य बीमा कंपनी द्वारा कोलकाता, मुंबई, दिल्ली और बेंगलूर में एक महीने तक कराये गये सर्वेक्षण में कहा, ‘‘सामाजिक कारक जैसे मित्र और हमउम्र लोगों का दबाव :93 प्रतिशत:, धूम्रपान की लत लगने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है । इसके बाद काम का दबाव आता है ।’’
रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘धूम्रपान को स्टाइल के रूप मे देखा जाता है और एक ऐसी चीज जो


दबाव से मुक्ति दिलाती है ।’’
इस सर्वेक्षण का उद्देश्य धूम्रपान की लत के कारणों का पता लगाना और समझना था ।
रिपोर्ट में कहा गया है कि कोलकाता में 66 प्रतिशत धूम्रपान करने वाले लोगों ने 16 से 20 साल की उम्र में धूम्रपान शुरू किया । उसने कहा, ‘‘आधे धूम्रपान करने वाले लोगों ने इसे जारी रखा क्योंकि उन्हें लगता है कि एक सीमा के अंदर धूम्रपान करने से स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव नहीं पड़ता ।’’
भाषा

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?