मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
नशीले पदार्थ का कारोबारी निकला मंडल आयुक्त के दफ्तर का लिपिक PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 11 June 2013 19:38

जालंधर (भाषा)। जालंधर के संभागीय आयुक्त के कार्यालय में लिपिक के रूप में काम करने वाले व्यक्ति को नशे का अवैध कारोबार करने के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में उसे आज मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया, जहां से उसे 14 दिन के न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।
पुलिस निरीक्षक बरजिंदर सिंह ने आज ‘भाषा’ बताया, ‘‘संभागीय आयुक्त के कार्यालय में बतौर लिपिक तैनात भीष्म को पुलिस ने कल रात नशीले पदार्थ के साथ गिरफ्तार किया था। शहर के टैगोर नगर निवासी भीष्म को आज मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।’’
सिंह ने


बताया कि पुलिस ने कल रात उसके पास से 500 ग्राम नशीला पाउडर तथा 1344 नशीले कैप्सूल बरामद किये थे। उन्होंने यह भी बताया कि संभागीय आयुक्त के कार्यालय के कर्मचारी के खिलाफ संबंधित विभाग में पूरी रिपोर्ट भेज दी गयी है।
उन्होंने बताया कि संभागीय आयुक्त के कार्यालय की आड में वह नशा बेचने का धंधा करता था और पिछले कुछ साल से वह इस धंधे में लिप्त है। शहर के भार्गव कैंप थाने में उसके खिलाफ एनडीपीएस अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?