मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
चीन के कूटनीतिक रिश्तों में भारत, पाक की महत्वपूर्ण भूमिका PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 20 May 2013 15:08

बीजिंग। अपने दो परमाणु संपन्न पड़ोसियों के महत्व को रेखांकित करते हुए चीन ने आज कहा कि हिंद महासागर में अहम नौवहन चैनलों की सुरक्षा बनाए रखने में भारत की खास भूमिका है जबकि पाकिस्तान बीजिंग और इस्लामी जगत के बीच एक सेतु का काम करता है।
‘चाइनीज एकेडमी आॅफ सोशल साइंसेज’ में ‘इन्स्टीट्यूट आॅफ एशिया पैसेफिक स्टडीज’ के उप निदेशक सुन शिहाई ने सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स से कहा ‘भारत और पाकिस्तान की चीन के कूटनीतिक रिश्तों में अब तक अलग अलग लेकिन महत्वपूर्ण भूमिका रही है।’
सुन ने ऐसे समय पर यह बात कही है जब चीन के प्रधानमंत्री ली क्विंग भारत और पाकिस्तान के दौरे पर हैं। फिलहाल तीन दिवसीय दौरे पर ली भारत में हैं। प्रधानमंत्री का पद ग्रहण करने के बाद यह ली का पहला विदेश दौरा है।
‘इन्स्टीट्यूट आॅफ एशिया पैसेफिक स्टडीज’ के उप निदेशक ने कहा ‘हिंद महासागर में नौवहन चैनलों की सुरक्षा बनाए रखने में भारत की खास भूमिका है। ये चैनल अफ्रीका और पश्चिम एशिया के साथ चीन के कारोबार के लिए अहम हैं। दूसरी ओर, पाकिस्तान अफगानिस्तान जैसे अन्य इस्लामी देशों पर गहरा असर डाल सकता है और चीन तथा पश्चिम एशिया के बीच एक सेतु की तरह काम करता है।’
हुआ ने कहा कि दोनों देशों की जनता को दोनों ओर के नेतृत्व के बीच आमसहमति के बारे में बताना बहुत महत्वपूर्ण कार्य है। ऐसे कई लोग हैं जो दोनों देशों के बीच मित्रता देखने के इच्छुक नहीं हैं और उनके बीच


लंबी अवधि की शत्रुता देखने की आशा करते हैं।
उन्होंने कहा कि लेकिन चीन और भारत की जनता को उन लोगों की योजनाओं को पूरा होने नहीं देना चाहिए जो दो पडोसी देशों के बीच मैत्रीपूर्ण संबंधों को लेकर ईर्ष्यालु है। उन्हें समझना चाहिए कि मैत्रीपूर्ण संबंध चीन और भारत के बुनियादी हित में हैं।
ली की यात्रा को जरूरी बताते हुए सरकारी अखबार ‘चाइना डेली’ ने अपने संपादकीय में कहा कि प्रधानमंत्री का भारत और पाकिस्तान का शुरूआती दौरा चीन के अपने पडोसियों के साथ विकासशील रचनात्मक संबंधों के महत्व को दर्शाता है।
बीजिंग और नई दिल्ली रचनात्मक संबंध बरकरार रखने के महत्व को जानते हैं और उनके रिश्ते विश्वास की कमी को लेकर असुरक्षित साबित हुए हैं।
इसमें कहा गया कि आमने सामने की बात हमेशा ही आपसी विश्वास बढाने का सर्वश्रेष्ठ तरीका है।
इसमें कहा गया कि चीन और दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप के दो महत्वपूर्ण सदस्यों के बीच वृहद सहयोग इन तीनों के हितों के लिए जरूरी नहीं बल्कि यह क्षेत्रीय शांति एवं विकास में भी योगदान करता है।
ली की पाकिस्तान की यात्रा का यह महत्वपूर्ण समय है क्योंकि पाकिस्तान में हाल में आम चुनाव संपन्न हुए हैं।
अखबार ने कहा कि ली की दक्षिण एशिया के चार देशों की यात्रा को लेकर बड़ी आशाएं रखने का हमारे पास हरेक कारण है।
भाषा

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?