मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
पाकिस्तान के साथ विवाद के बीच भारत से सैन्य मदद मांगेंगे करजई PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 20 May 2013 10:29

काबुल। पाकिस्तान के साथ सीमा पर चल रहे तनाव के बीच अफगान राष्ट्रपति हामिद करजई के एक सहयोगी का कहना है कि करजई अपने तीन दिन के भारत दौरे पर सैन्य सहायता का आग्रह करेंगे।
करजई का दौरा उस वक्त हो रहा है जब अफगानिस्तान का पाकिस्तान के साथ सीमा पर तनाव चल रहा है।
करजई के प्रवक्ता ऐमल फैजी ने कहा कि कल से शुरू हो रहे नयी दिल्ली दौरे पर राष्ट्रपति पाकिस्तान के साथ चल रहे सीमा विवाद को लेकर भी चर्चा करेंगे।
उन्होंने कहा कि करजई अफगान सुरक्षा बलों को मजबूत करने में भारत की मदद मांगेगे।
करजई के इस दौरे से पाकिस्तान परेशान हो सकता है क्योंकि वह इस बात का संदेह करता है कि अफगानिस्तान में भारत अपना प्रभाव बढ़ा रहा है।
विशेषज्ञ वादिर सैफी का कहना है कि पाकिस्तान के साथ सीमा पर हुई हालिया झड़पों को करजई के इस दौरे से जोड़कर देखा जा सकता है।
अफगानिस्तान और


पाकिस्तान एक दूसरे पर अपनी सीमा में गोलीबारी करने का आरोप लगा रहे हैं।
भारत और अफगानिस्तान ने साल 2011 में एक रणनीतिक साझेदारी समझौते पर हस्ताक्षर किया था। इसके तहत अफगान सुरक्षा बलों को भारतीय सैन्य प्रशिक्षण दिए जाने की बात शामिल है।
अफगान राष्ट्रपति के प्रवक्ता फैजी ने कल संकेत दिया कि करजई भारत के साथ सहयोग को विस्तार देने की कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘हमारे सुरक्षा बलों को जिस तरह की मदद की जरूरत होगी, वो हमें भारत से मिलेगी।’’
उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय रणनीतिक स्पर्धाओं के साथ करजई भारतीय नेतृत्व के साथ आर्थिक मुद्दों पर चर्चा करेंगे तथा वह एक विश्वविद्यालय में मानद डिग्री हासिल करेंगे।
भारत ने अफगानिस्तान में बुनियादी ढांचे के विकास से संबंधित परियोजनाओं में दो अरब डॉलर से अधिक का निवेश किया है।
भाषा

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?