मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
हरियाणा सरकार ने सतलोक आश्रम किया सील PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 15 May 2013 16:39

रोहतक :हरियाणा: (भाषा)। हरियाणा के करौंथा गांव में संत रामपाल के लगभग 3,000 अनुयायियों द्वारा विवादित सतलोक आश्रम खाली किए जाने के बाद हरियाणा सरकार ने आज उसे सील कर दिया। गांव में लेकिन अब भी मरघट सी शांति शांति बनी हुई है।
एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘संत रामपाल के सैकड़ों अनुयायियों ने आश्रम खाली कर दिया और अब वहां शांति है।’’
आर्य समाज के कार्यकर्ताओं और रामपाल के अनुयायियों के बीच सतलोक आश्रम को लेकर विवाद चल रहा है। गत रविवार को यहां हिंसक झड़पों में तीन लोग मारे गए और 50 पुलिसकर्मियों समेत 100 से अधिक लोग घायल हो गए।
आश्रम खाली करने के आदेश के बाद पिछले तीन दिनों से आश्रम में रह रहे लगभग 3,000 अनुयायी कल हरियाणा रोडवेज की कई बसों में सवार होकर आश्रम से चले गए।
आदेश जारी करने वाले रोहतक के पुलिस उपायुक्त विकास गुप्ता ने कहा कि अनुयायियों


को यहां से हटाने का फैसला शांति और सौहार्द बरकरार रखने के लिए लिया गया।
आर्यसमाज के कार्यकर्ताओं ने रविवार को मारे गए एक व्यक्ति का शव गांव की एक सड़क के पास रखकर कहा था कि जब तक रामपाल के समर्थक आश्रम खाली नहीं कर देते, वह शव का दाह संस्कार नहीं करेंगे।
गांव के लोग और आर्यसमाज के कार्यकर्ता आश्रम को खाली कराने के लिए विरोध प्रदर्शन कर सरकार पर दबाव डाल रहे थे। प्रदर्शनकारी झड़प में मारे गए लोगों के परिवारों को उचित वित्तीय मदद देने की भी मांग कर रहे थे।
मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने एक अतिरिक्त जिला मेजिस्ट्रेट से झड़प की जांच कराए जाने के आदेश दिए हैं और एक मृतक के परिजन को 10 लाख रुपए देने की घोषणा की।

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?