मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
बचपन का तनाव तैयार कर देता है दिमाग को आगामी चुनौतियों के लिए PDF Print E-mail
User Rating: / 2
PoorBest 
Monday, 08 April 2013 16:19

टोरंटो। जीवन के शुरूआती दौर में यदि मस्तिष्क को तनाव का अनुभव हो जाए तो व्यक्ति भविष्य में मिलने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार हो जाता है।
कनाडा में कैलगरी विश्वविद्यालय के हॉचकिस ब्रेन इन्स्टीट्यूट के अनुसंधानकर्ताओं ने यह भी पता लगाया है कि मस्तिष्क के ‘स्ट्रेस सर्किट’ में बचपन में सीखने की अपार क्षमता होती है।
अनेक प्रयोगों और अध्ययन के बाद जयदीप बैंस और उनके सहयोगियों का कहना है कि स्ट्रेस सर्किट तनाव के बाद


खुद को सामान्य अवस्था में ले आता है।
अध्ययन के नतीजे जर्नल ‘नेचर न्यूरोसाइंस’ में प्रकाशित हुए हैं।  
फिजियोलॉजी और फर्मेकोलॉजी विभाग के प्राध्यापक बैंस ने कहा ‘नए नतीजे बताते हैं कि मस्तिष्क में जिन प्रणालियों को जटिल समझा जाता है वे वास्तव में, खास तौर पर जीवन के शुरूआती दौर में बेहद लचीली होती हैं।’

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?