मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
तृणमूल कांग्रेस एवं कांग्रेस छात्र शाखा में झड़प से सब-इंस्पेक्टर की मौत PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 12 February 2013 17:52

कोलकाता (भाषा)। एक स्थानीय कॉलेज में कांग्रेस एवं तृणमूल कांग्रेस के छात्र संघों के बीच शहर के गार्डन रिच इलाके में आज हुई झड़प के दौरान गोली लगने से कोलकाता पुलिस की अपराध शाखा के एक सब-इंस्पेक्टर की मौत हो गयी। उपायुक्त :पोर्ट: वी सोलोमन ने कहा कि झड़प उस वक्त हुई जब हरि मोहन घोष कॉलेज में छात्र संघ चुनावों के लिए उम्मीदवारों के बीच नामांकन पत्र बांटे जा रहे थे ।
सब-इंस्पेक्टर तापस चौधरी को झड़प के दौरान गोली लग गयी जिससे वह बुरी तरह जख्मी हो गए । झड़प में छात्रों और कुछ स्थानीय लोगों ने बमों और ईंट के टुकड़ों का भी इस्तेमाल किया ।
घटनास्थल के पास के ही सीएमआरआई अस्पताल में भर्ती कराए जाने के बाद तापस चौधरी को मृत घोषित कर दिया गया ।
सोलोमन ने कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस छात्र शाखा :टीएमसीपी: और कांग्रेस की छात्र शाखा के बीच झड़प के दौरान गोलियां चलने से सब-इंस्पेक्टर तापस चौधरी जख्मी हो गए और आखिरकार उन्होंने दम तोड़ दिया ।’’
पुलिस सूत्रों ने कहा कि अतिरिक्त बल भेजे गए हैं और इलाके में एक पुलिस पिकेट बना दी गयी है जबकि यातायात में बदलाव किया गया है ।
हिंसा के तुरंत बाद इलाके के दौरे पर गए राज्य के शहरी विकास मंत्री फरहाद हकीम ने पुलिस और छात्रों से बात की और आरोप लगाया कि इस मामले में ऐसे आपराधिक तत्व शामिल रहे हैं जिन्हें कांग्रेस और माकपा ने शरण दे रखी है ।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप भट्टाचार्य ने हकीम के आरोपों पर पलटवार करते हुए


मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की । भट्टाचार्य ने ‘पीटीआई’ को बताया, ‘‘हम इस मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हैं ।’’
कांग्रेस नेता ने पुलिस और राज्य प्रशासन पर गुंडा तत्वों के आगे संवैधानिक नियम-कायदों और अधिकारों का समर्पण कर देने का आरोप लगाया ।
भट्टाचार्य ने कहा कि वह इस घटना से केंद्र को अवगत कराएंगे ।
माकपा ने भी तृणमूल कांग्रेस सरकार की यह कहते हुए आलोचना की कि ममता बनर्जी सरकार में शहर में कानून की कमी ने एक रेकॉर्ड कायम किया है ।
माकपा की केंद्रीय कमेटी के सदस्य मोहम्मद सलीम ने कहा, ‘‘इस घटना से शहर में कानून का अभाव साबित होता है । राज्य प्रशासन और पुलिस मूक दर्शक बन कर रह गए हैं । लिहाजा ऐसी चीजें तो होनी ही हैं ।’’  
सलीम ने शहरी विकास मंत्री हकीम पर इलाके के गुंडों को संरक्षण देने का आरोप लगाया ।
बाद में हकीम ने दावा किया कि हिंसा के मामले में दो लोगों के गिरफ्तार किया गया है ।
मंत्री ने कहा, ‘‘दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है । गिरफ्तार किए गए लोगों में से एक का नाम चीमा है जिसे माकपा के स्थानीय कार्यालय से पकड़ा गया । उसके पास से बम भी जब्त किए गए हैं ।’’
हकीम ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं।

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?