मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
गोद में लैपटाप रखने से शुक्राणुओं हो सकते हैं नष्ट PDF Print E-mail
User Rating: / 1
PoorBest 
Tuesday, 06 November 2012 16:31

लंदन। लंबे समय से पिता बनने का प्रयास कर रहे ब्रिटेन में एक व्यक्ति को जब डाक्टरों ने यह बताया कि गोद में लैपटाप रखने की आदत ने उसके शुक्राणुओं को नष्ट कर दिया है तो वह हैरान रह गया।
इसका परिणाम यह हुआ है कि पेशे से इलैक्ट्रिशियन 30 वर्षीय स्काट रीड की पत्नी लौरा को गर्भधारण करने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था ।
इसके बाद रीड ने गोद के बजाय टेबल पर रखकर लैपटाप का इस्तेमाल शुरू किया और तीन महीने बाद ही उसकी पत्नी लौरा गर्भवती हो गयी। डेली मेल में यह रिपोर्ट प्रकाशित हुई है ।
लौरा ने कहा, ‘‘ मैेंने पहले कभी ऐसा होने के बारे में नहीं सुना था और जब डाक्टरों ने हमें यह


बताया तो हम दंग रह गए ।’’
लौरा ने कहा, ‘‘ रीड शाम के समय घंटों टीवी देखने के दौरान गोद में लैपटाप रखकर काम करता था। हमें कतई नहीं पता था कि इससे इतना बड़ा नुकसान हो रहा है।’’
इसके बाद रीड के कई प्रकार के परीक्षण हुआ और माइक्रोस्कोप के नीचे यह देख पाना संभव था कि शुक्राणु की पूंछ सिरे पर जल सी गयी है जिसका मतलब था कि वह अंडाणु की तरह तेजी से तैर कर नहीं जा सकता।
क्वीन एलेक्जेंड्रा हास्पिटल की बायोमैडिकल एंड्रोलोजिस्ट सू केनवर्थी ने इस बात की पुष्टि की कि लैपटाप की गर्मी का शुक्राणुओं पर असर पड़ सकता है ।

 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?