मुखपृष्ठ अर्काइव
Bookmark and Share
आडवाणी के घर के सामने धरना प्रर्दशन PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 23 August 2011 09:40

भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम छेड़े अन्ना हजारे के समर्थकों ने आज भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के घर के सामने धरना दिया। इस दौरान आडवाणी ने जन लोकपाल विधेयक और प्रधानमंत्री तथा उच्च्परी न्यायपालिका को इसके दायरे में लाने के संबंध में हजारे समर्थकों की ओर से पूछे गए कड़े सवालों का जवाब देते हुए विपक्ष का पक्ष रखा।

आडवाणी ने निवास के बाहर धरना दे रहे युवा हजारे समर्थकों से कहा, ‘‘हम सरकार के वर्तमान लोकपाल विधेयक से खुश नहीं हैं। यह बहुत शक्तिहीन और कमजोर है। यह लोकपाल के दायरे में प्रधानमंत्री को शामिल नहीं करता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘लोकपाल को नियुक्त करने की प्रक्रिया भी ऐसी है कि वह आधिकारिक तौर पर नामित हो जाएगा।’’

करीब 100 हजारे समर्थकों की भीड़ यहां रात तकरीबन नौ बजे आडवाणी के घर के


बाहर एकत्रित हुई। समर्थक ‘लोकपाल विधेयक पर सरकार विपक्ष एक साथ’ और ‘भ्रष्टाचार खत्म करो’ जैसे नारे लगा रहे थे।

आडवाणी जब घर से बाहर निकलकर भीड़ के पास पहुंचे तो उन्हें गुलाब के फूल दिये गये। उन्होंने  शांतिपूवर्क करीब 30 मिनट तक उनके सवालों के जवाब दिये।

भाजपा नेता ने कहा, ‘‘जिस तरह के भ्रष्टाचार के मामलों का खुलासा हो रहा है, उससे हम बहुत दुखी हैं। राष्ट्रमंडल खेलों, टूजी आवंटन स्पेक्ट्रम और आदर्श हाउसिंग सोसायटी, तीन घोटाले प्रकाश में आए हैं.... लोकपाल विधेयक पर संसद में चर्चा होगी। हम सरकारी विधेयक से सहमत नहीं हैं और हम इसे सार्वजनिक रूप से पहले भी कह चुके हैं।’’

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?