मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
मुख्यमंत्री ने दिये मण्डी परिषद के लिये ‘विजन डाक्यूमेंट’ तैयार कराने के आदेश PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 25 April 2012 23:35

लखनऊ, 24 अप्रैल (एजेंसी) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज मण्डी परिषद के कार्यकलापों को अधिक प्रभावी बनाने के लिये अगले पांच वर्षों का ‘विजन डाक्यूमेंट’ तैयार कराने के आदेश दिये। आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि मण्डी परिषद के संचालक मण्डल की 141वीं बैठक में मुख्यमंत्री ने मण्डी परिषद के भविष्य के कार्यकलापों को प्रभावी बनाने के उद्देश्य से अगले पांच वर्षों का ‘विजन डाक्यूमेंट’ किसी ख्याति प्राप्त संस्था से तैयार कराने के निर्देश दिये हैं।
सूत्रों के मुताबिक अखिलेश ने ताकीद की है कि ‘विजन डाक्यूमेंट’ में मण्डी परिषद अथवा समितियों में कम्प्यूटरीकरण की व्यवस्था, राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर के मण्डी स्थलों के विकास और कृषि उत्पाद के निर्यात को बढ़ावा देने जैसे विषयों का खाका तैयार कराया जाए।
मुख्यमंत्री ने मण्डी परिषद द्वारा कराये जा रहे


विकास कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश देते हुए कहा कि इस साल नये मण्डी स्थल के निर्माण के लिये 887. 88 करोड़ रुपए तथा सम्पर्क मार्गों के लिये 740. 98 करोड़ रुपए खर्च किये जाएंगे।
उन्होंने लोहिया ग्राम योजना को फिर से संचालित करने का निर्देश देते हुए बताया कि इसके लिये 250 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।
गौरतलब है कि पूर्ववर्ती मायावती सरकार ने लोहिया ग्राम योजना को बंद कर दिया था।
मुख्यमंत्री ने आलू उत्पादक किसानों की समस्याओं की चर्चा करते हुए आलू निर्यात के प्रोत्साहन के लिये विशेष कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश भी दिये हैं।

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?