मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
आइएस ने अब ब्रिटिश नागरिक का किया सर कलम PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 15 September 2014 10:00


वाशिंगटन / बेरूत। इस्लामिक स्टेट (आइएस) ने अब एक ब्रिटिश सहायता कर्मी डेविड हेंज का सर कमल कर दिया है। हेंज (44) को पिछले साल सीरिया में पकड़ा गया था। अमेरिका के दो पत्रकारों की हत्या के बाद हाल में यह इस तरह की हत्या का तीसरा मामला है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने आइएस की इस करतूत को ‘विशुद्ध पाप’ करार देते हुए कहा है कि हत्यारों को न्याय की जद में लाने के लिए वह अपनी पूरी ताकत लगा देंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी इस ब्रिटिश नागरिक की नृशंस हत्या की निंदा की है। 


आइएस ने शनिवार को एक वीडियो जारी किया, जो एक निजी आतंकवाद निगरानी समूह एसआइटीई की वेबसाइट पर उपलब्ध है। वीडियो में कथित तौर पर एक नकाबपोश चरमपंथी को सर कलम करते हुए दिखाया गया है। दो मिनट 27 सेकंड के इस वीडियो का शीर्षक ‘ए मैसेज टू अलाइज ऑफ अमेरिका’ (अमेरिका के सहयोगियों के लिए संदेश) था है। इसमें ब्रिटिश प्रधानमंत्री डेविड कैमरन पर अमेरिकी सेना का साथ देने का आरोप लगाया गया है जो अपने अभियान को जिहादियों के साथ ‘युद्ध’ कहती है और उसने इराक में उनके खिलाफ हवाई हमले भी शुरू किए हैं।

कैमरन ने चरमपंथियों की इस हरकत की भर्त्सना करते हुए कहा है-‘यह विशुद्ध पाप की करतूत है। डेविड हेंज के परिवार के साथ मेरी संवेदना है जिसने दुख की इस घड़ी में अदम्य साहस दिखाया है।’ उन्होंने कहा कि हत्यारों को पकड़ने और उन्हें न्याय के कटघरे में लाकर खड़ा करने के लिए हम अपनी सारी ताकत लगा देंगे और इसमें चाहे जितना भी लंबा वक्त लगे हम इसके लिए सब कुछ करेंगे।

ब्रिटिश विदेश मंत्रालय इस वीडियो की प्रामाणिकता जांचने के लिए काम कर रहा है। 

वीडियो में हत्या करने वाले ने कहा-‘इस्लामिक स्टेट के खिलाफ आप स्वेच्छा से अमेरिका का साथ दे रहे हैं जैसा कि आपके पूर्ववर्ती टोनी ब्लेयर ने किया था। उन्होंने भी उन अन्य


ब्रिटिश प्रधानमंत्रियों का अनुसरण किया जो अमेरिका को इनकार करने का साहस नहीं जुटा सके।’

जारी किए गए वीडियो में दिख रहा व्यक्ति संभवत: वही है जो पहले के वीडियो में भी नजर आया है। उसने ब्रिटेन को चेतावनी दी कि यह गठबंधन उनके विनाश को गति देगा और ब्रिटिश लोगों को ऐसे ही खूनी युद्ध में धकेलेगा जिसमें उनकी पराजय होगी। वीडियो में उसने अन्य ब्रिटिश नागरिक की भी हत्या करने की धमकी दी।

हेंज के भाई माइक हेंज ने कहा-‘डेविड मानवीय कार्यों की अपनी भूमिका को लेकर बहुत अधिक जीवंत और उत्साहित थे। काम के प्रति उनके समर्पण और प्रसन्नता की वजह से वे सीरिया गए जो मेरे और परिवार के लिए बहुत दुखद रहा।’

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ने भी इस ब्रिटिश नागरिक की नृशंस हत्या की निंदा की है। ओबामा ने एक बयान में कहा कि हेंज की बर्बर हत्या की कड़े शब्दों में निंदा करता है। हेंज के परिवार और ब्रिटेन के लोगों के प्रति हमें सहानुभूति है।

आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री टोनी एबोट और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसवा ओलोंद ने भी इस घटना की निंदा की है।

स्कॉटलैंड में जन्मे हेंज को सीरिया में मार्च 2013 में बंधक बना लिया गया था। आइएस के चरमपंथी द्वारा अमेरिकी पत्रकार स्टीवेन सॉटलॉफ का सर कलम किए जाने की घटना वाले वीडियो में हेंज की हत्या की धमकी दी गई थी। हेंज एजंसी फॉर टेक्नीकल कोआॅपरेशन एंड डवलपमेंट (एसीटीईडी) के लिए काम करते थे, जो अंतरराष्ट्रीय राहत कार्य करने वाला एक परमार्थ संगठन है। इससे पहले वे अफ्रीकी क्षेत्र बाल्कंस और मध्य पूर्व में हुए मानवीय कार्यों में भी शामिल रहे थे।

सॉटलॉफ और उनके साथी पत्रकार जेम्स फॉली को भी सीरिया में ही अगवा किया गया था। आइएस ने 19 अगस्त और दो सप्ताह बाद 2 सितंबर को अलग-अलग वीडियो जारी कर फॉली और सॉटलॉफ की हत्या का दावा किया था।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?