मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
न्यूजीलैंड के तीन क्रिकेटर फिक्सिंग जांच के घेरे में PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Thursday, 05 December 2013 11:19

वेलिंगटन। न्यूजीलैंड क्रिकेट आज मैच फिक्सिंग के आरोपों से घिर गया जब मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया कि पूर्व हरफनमौला क्रिस केर्न्स समेत तीन क्रिकेटर फिक्सिंग मामले में आईसीसी जांच के दायरे में हैं ।

 

‘न्यूजीलैंड हेराल्ड’ की एक रिपोर्ट के अनुसार स्काय टीवी के कमेंटेटर केर्न्स, तेज गेंदबाज डेरिल टफी और बल्लेबाज लू विंसेंट इन तीन खिलाड़ियों में शामिल हैं ।

आईसीसी या न्यूजीलैंड क्रिकेट ने खिलाड़ियों के नामों की पुष्टि नहीं की है लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने स्वीकार किया है कि जांच चल रही है ।

आईसीसी ने एक विज्ञप्ति में कहा ,‘‘ आईसीसी इसकी पुष्टि करती है कि पिछले कुछ महीने से सदस्य देशों की घरेलू भ्रष्टाचार निरोधक ईकाइयों के साथ मिलकर इन मसलों की जांच कर रही है ।’’

इसने कहा ,‘‘ चूंकि अभी जांच चल रही है और किसी पर कोई आरोप नहीं लगाया गया है तो आईसीसी या न्यूजीलैंड क्रिकेट आगे टिप्पणी नहीं कर सकते ।’’

स्काय टीवी की प्रवक्ता क्रिस्टी वे ने कहा कि केर्न्स अब चैनल के लिए कमेंट्री नहीं कर रहे हैं ।

उन्होंने ‘न्यूजीलैंड हेराल्ड’ से कहा ,‘‘ केर्न्स अब मौजूदा टेस्ट मैच की कमेंट्री नहीं करेंगे और आकलैंड जाकर परिवार के साथ समय बिताएंगे । स्काय आने वाले समय में उनसे बात करेगा ।’’

अखबार ने पहले कहा था कि आईसीसी की भ्रष्टाचार निरोधक और सुरक्षा ईकाई के सदस्य पिछले चार महीने से देश में हैं और न्यूजीलैंड के क्रिकेटरों के ‘एक से अधिक देश में ’ फिक्सिंग में लिप्त होने की जांच कर रहे हैं ।

 

न्यूजीलैंड क्रिकेट के प्रमुख


डेविड व्हाइट ने पहले टेस्ट के तीसरे दिन का खेल शुरू होने से पहले कहा कि वे इन आरोपों से स्तब्ध और हैरान हैं ।

उन्होंने कहा ,‘‘ न्यूजीलैंड क्रिकेट को इल्म था कि आईसीसी कई महीने से न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटरों की कुछ गतिविधियों की जांच कर रही है । कोई मौजूदा खिलाड़ी जांच के दायरे में नहीं है और न्यूजीलैंड में हुए किसी मैच की जांच नहीं हो रही है ।’’

विंसेंट ने एक बयान जारी करके इसकी पुष्टि की है कि उनकी भूमिका की जांच हो रही है ।

उन्होंने कहा ,‘‘ मैं सभी को बताना चाहता हूं कि मैं आईसीसी भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई की जांच में पूरा सहयोग कर रहा है । जांच के कई नियम और शर्तें हैं जिसके तहत मैं सार्वजनिक तौर पर आगे कुछ नहीं कह पाऊंगा।’’

सिर्फ क्रिकेटर ही नहीं बल्कि न्यूजीलैंड का राजनीतिक तबका भी इस खबर से हैरान रह गया है । प्रधानमंत्री जान की ने कहा कि यदि न्यूजीलैंड के तीन पूर्व क्रिकेटरों पर फिक्सिंग के आरोप सही पाए गए तो यह काफी गंभीर मामला होगा ।

उन्होंने कहा ,‘‘ न्यूजीलैंड खेल और व्यवसाय दोनों मामलों में काफी ईमानदार रहा है लिहाजा यदि ये आरोप सही पाये गए तो काफी चिंता का विषय होगा ।’’

न्यूजीलैंड क्रिकेट प्लेयर्स एसोसिएशन के प्रमुख हीथ मिल्स ने इसे खेल के लिए दुखद दिन बताया ।

(भाषा)

 

 

 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?