मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
पाक के जंग जीतने की कोई संभावना नहीं : मनमोहन सिंह PDF Print E-mail
User Rating: / 1
PoorBest 
Thursday, 05 December 2013 09:32

नई दिल्ली / कोलकाता। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने बुधवार को कहा कि उनके जीवनकाल में पाकिस्तान के भारत के खिलाफ

किसी जंग के जीतने की कोई संभावना नहीं है।

 

प्रधानमंत्री ने संवाददाताओं से कहा-‘मेरे जीवनकाल में पाकिस्तान के किसी भी जंग के जीतने की कोई संभावना नहीं है।’

सिंह पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की ओर से ‘डॉन’ अखबार को दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे। इस बयान में नवाज शरीफ ने कहा था कि कश्मीर ज्वलंत मुद्दा है जो भारत के साथ चौथी बार युद्ध भड़का सकता है। अखबार के मुताबिक नवाज ने कहा कि उनका ख्वाब कश्मीर को हिंदुस्तान के कब्जे से मुक्त करना है, यह ख्वाब उनके जीवन में ही पूरा होने की संभावना है।

बाद में पाकिस्तान सरकार की ओर से इस बयान का खंडन किया गया। नवाज शरीफ के कार्यालय की ओरसे कहा गया कि उन्होंने पाक अधिकृत कश्मीर परिषद में कभी ऐसी बात नहीं कही और अखबार में छपी रिपोर्ट को ‘निराधार, गलत और गलत मंशा पर आधारित बताया।’ पाक प्रधानमंत्री के कार्यालय ने यह भी कहा कि शरीफ की यह राय है कि पाकिस्तान और भारत के बीच टकराव के किसी भी मुद्दे का शांतिपूर्ण तरीके से समाधान किया जाना चाहिए।

उधर कोलकाता में पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल शंकर राय चौधरी


ने भी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के इस बयान की कड़ी आचोलना की। पूर्व सेना प्रमुख जनरल राय चौधरी ने बुधवार को कहा कि यह शरीफ का निसंदेह एक अतिवादी बयान है, जिससे हालात सामान्य होने के बजाय जटिल होंगे। केंद्र अपने स्तर पर पाकिस्तान को इस टिप्पणी का तुरंत जवाब दे। पाकिस्तान में सेना ही सर्वोच्च संगठन है, यह बात खुद नवाज शरीफ बखूबी जानते हंै। सेना की बोली बोल कर वे अपनी स्थिति मजबूत करना चाहते हैं।

जनरल चौधरी ने मीडिया को आगाह किया कि नवाज शरीफ के बयान पर सनसनी न फैलाए। कश्मीर भारत का अविभाज्य हिस्सा है और हमेशा रहेगा। हमारी सेना हर स्थिति से निपटने को तैयार है। पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राहुल सिन्हा ने नवाज की टिप्पणी पर अपनी तल्ख प्रतिक्रिया की और आरोप लगाया कि भारत के दुर्बल केंद्रीय नेतृत्व के कारण ही पाकिस्तान सरकार बड़ी-बड़ी बात कर रही है। सिन्हा ने कहा कि भारतीय सेना के जवानों का सिर काटने की पाक सेना की घृणित कार्रवाई तक का भारत सरकार समुचित विरोध नहीं दर्ज करा पाई।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?